Call center jobs – call center job – दोस्तों आपने कॉल सेंटर या फिर कॉल सेंटर जॉब के बारे में तो बहुत बार सुना होगा। जब भी हमें कोई काम करने की बारी आती है या फिर जॉब करने की बारी आती है तो सबसे पहले हमें call centre के बारे में ही job करने को कहा जाता है । कॉल सेंटर जॉब क्या होता है? कॉल सेंटर जॉब कैसे किया जाता है? BPO kya hota hai जानिए?

या फिर जो कोई भी fresher होता है यानी जिन्होंने अभी तक कोई काम नहीं किया होता है व जब भी कोई जॉब के लिए पूछता है तो उसे सिर्फ call centre की जॉब ही बताई जाती है क्योंकि वह आसान व जल्दी मिलने वाली job होती है।

आज हम call centre job के बारे में या फिर कॉल सेंटर जॉब क्या होता है इसके बारे में पूरी detail से बात करेंगे।

What is the call centre – jobs in call center.

दोस्तों अब हम जानेंगे कि कॉल सेंटर जॉब क्या है? यानी कि BPO job क्या होता है ? कॉल सेंटर जॉब को कैसे करना पड़ता है तथा इसके साथ ही आपको जानेंगे की call centre में आपको क्या-क्या चीजें सीखने को मिलती है।

चलिए दोस्तों जानते हैं कि कॉल सेंटर जॉब क्या होती है? कॉल सेंटर जॉब में क्या काम हमको करना पड़ता है तथा call centre job के बारे में पूरी जानकारी हम आपको बताएंगे।

दोस्तों कॉल सेंटर जॉब करने के लिए कोई भी व्यक्ति जो कि call center में बैठा होता है उसे अपनी कंपनी के ग्राहक यानी कि जिस भी company में वह कॉल सेंटर की जॉब कर रहा है।

उस company के जितने भी customer को किसी भी services या products संबंधित प्रॉब्लम होती है तो वह सीधा कस्टमर केयर को ही फोन करते हैं। यानी कि कॉल सेंटर जॉब में हमें कस्टमर की problem को सुनना है और उनको उस प्रॉब्लम का solutions देना है।

कॉल सेंटर कितने प्रकार के होते हैं? – type of call centre job.

दोस्तों क्या आप जानते हैं कि कॉल सेंटर कितने प्रकार के होते हैं ? कॉल सेंटर या कॉल सेंटर जॉब का नाम तो आपने बहुत बार सुना ही होगा लेकिन call center के प्रकारों के बारे में आप बहुत कम लोग ही जानते हैं।

आज हमें इसी के बारे में बात करेंगे कि call centre कितने प्रकार के होते हैं?

दोस्तों कॉल सेंटर दो प्रकार के होते हैं। दोनों ही तरीकों में call centre में काम करने वाले व्यक्ति को अपने customer यानी कि ग्राहक कि help करनी होती है तथा उसकी जितनी भी समस्याएं हैं।

उनको सुलझाना होता है कॉल सेंटर में सिर्फ ग्राहक को hendel किया जाता है बाकी और कोई काम नहीं करवाया जाता।

चलिए अब जान लेते हैं कॉल सेंटर के दो प्रकार कौन-कौन से हैं।

  1. In bond call centre ( इन बॉन्ड कॉल सेंटर)
  2. Out bond call centre ( आउट बॉन्ड कॉल सेंटर)

In bond call centre क्या होता है? – इन बॉन्ड कॉल सेंटर क्या होता है?

क्या आप जानते हैं कि इनबॉउंड कॉल सेंटर क्या होता है? अगर आप इनबॉउंड कॉल सेंटर के बारे में बिल्कुल भी नहीं जानते हैं तो चलिए अब जान लेते है।

इनबॉउंड कॉल सेंटर(in bond call centre) में ग्राहक यानी कि कस्टमर को खुद को ही कॉल सेंटर में call करना पड़ता है यानी कि जैसे हमें किसी भी product से संबंधित कोई problem है और हम उसका solution पाना चाहते हैं।

तो हम call centre में phone करके पूछ सकते हैं इसे हम इनबॉउंड कॉल सेंटर के नाम से जानते हैं।

यानी कि इनबॉउंड कॉल सेंटर में ग्राहक अपनी समस्या को लेकर खुद कॉल करता है। इसमें customer care या फिर कॉल सेंटर grahak को कभी कॉल नहीं करते हैं।

Out bond call centre क्या होता है? – आउट बॉन्ड कॉल सेंटर क्या होता है?

अब हम जान लेते हैं कि outbound call centre क्या होता है तथा इसमें क्या करना पड़ता है ? अगर आप नहीं जानते हैं तो चलिए जान लेते हैं कि आउट वांट कॉल सेंटर क्या होता है।

Outbound call centre में कस्टमर केयर ग्राहक यानी कस्टमर को कॉल करता है तथा उनकी problem के निवारण के लिए उनसे बात करता है।

यानी की out bond call center में कॉल सेंटर खुद ग्राहक को कॉल करके उनकी problem का सॉल्यूशन देता है।

BPO kya hota hai जानिए?- BPO ka full form.

BPO kya hai – BPO ka matlab – क्या आप भी जानते हैं कि बीपीओ क्या होता है यानी की बीपीओ( BPO) का क्या मतलब होता है ?

अगर आप बीपीओ के बारे में या बी पी ओ की full form के बारे में बिल्कुल भी नहीं जानते हैं तो हम आपको बता देंगे BPO ka full form “Business process outsourcing” होता है।

अगर हम बैंक ऑफिस के तौर पर बात करें तो BPO HR , फाइनेंस या फिर accounting के रूप में काम करता है और front office के रूप में कस्टमर केयर और कॉल सेंटर के रूप में बीपीओ (BPO) का काम करता है।

About call centre jobs – jobs for call centre.

Job for call centre – दोस्तों अगर आपको भी कॉल सेंटर की जॉब करनी है तो हम आपको बता दे कि मार्केट में ऐसी बहुत सारी telecom operators कंपनियां है।

जिनमें कॉल सेंटर की आवश्यकता हमेशा ही बनी रहती है यानी कि इन कंपनियों में job की vacancies की जरूरत समय-समय पर पडती रहती है तथा यह कंपनियां समय-समय पर वैकेंसी भी निकलती रहती है।

Call centre में निकली हुई job के लिए पूरे देश में हजारों लोग apply करते हैं तथा हर रोज हजारों की संख्या में युवक और युवतियां अपना luck कॉल सेंटर में आजमाने की कोशिश करते हैं।

इनमें से बहुतों को तो नौकरी मिल जाती है और कुछ लोगों को नौकरी नहीं मिल पाती है। यह उनको काबिलियत पर निर्भर करती है कि उनकी नौकरी call centre में लगेगी या नहीं।

कॉल सेंटर में जॉब के लिए क्या क्वालिफिकेशन होना चाहिए? – call centre job qualification.

Qualification for call centre job – दोस्तों जैसा कि आप जानते ही हैं कि कॉल सेंटर को बीपीओ भी कहा जाता है।

Call centre में job करने के लिए आप की qualifications कम से कम 10th पास होनी चाहिए यानी कि अगर आप कम से कम 10 वीं पास है तो आप कॉल सेंटर जॉब के लिए apply कर सकते हैं।
इसके साथ ही अगर कोई आदमी 10वीं तथा 12वीं पास है तो उसे call centre में job मिल जाएगी।

अगर आप कॉल सेंटर मैं यानी BPO में जॉब करना चाहते हैं तो आपकी Hindi और English भी काफी अच्छी होनी चाहिए। इसके साथ ही आपको शुद्ध हिंदी तथा शुद्ध अंग्रेजी आनी चाहिए तभी आप जॉब के लिए select किए जाओगे।

कॉल सेंटर में काम करने के लिए जरूरी स्किल्स क्या है? – skills for call centre job.

दोस्तों अलग-अलग company में काम करने के लिए अलग-अलग job करने के लिए आपको अलग अलग ही स्किल्स की आवश्यकता होती है।

उसी तरीके से आपको कॉल सेंटर जॉब में यानी BPO में काम करने के लिए भी कुछ skills की जरूरत पड़ती है। क्या आप जानते हैं कि वह कौन-कौन सी स्किल्स है?

आइए जानते हैं कि call centre में यानी बीपीओ में काम करने के लिए कौन कौन सी skill का होना जरूरी है।

1 . कॉल सेंटर में यानी बीपीओ में जॉब करने के लिए आपको हिंदी तथा अंग्रेजी की अच्छी खासी नॉलेज होनी चाहिए। यानी हिंदी और इंग्लिश दोनों ही भाषा का आपको ज्ञान होना चाहिए।

2 . कॉल सेंटर जॉब के लिए आपको थोड़ा बहुत कंप्यूटर का भी नॉलेज होना चाहिए यानी कि कंप्यूटर की बेसिक जानकारी आपको पता होनी चाहिए। इसके साथ ही आपको टाइपिंग भी अच्छी होनी चाहिए।

3 . कॉल सेंटर मैं जॉब के लिए आप के पास बोलने की कला आनी चाहिए यानी कि आपकी कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छी होनी चाहिए।

जिससे आप कॉल सेंटर में किसी भी तरह के कस्टमर से बात कर सकते हैं । यह तरीका भी आपको सीखना पड़ेगा क्योंकि कॉल सेंटर में ज्यादातर कस्टमर से बात करनी पड़ती है।

4 . कॉल सेंटर में जॉब के लिए आपके पास सुनने और समझने की अच्छी खासी नॉलेज होनी चाहिए क्योंकि कई बार कस्टमर ऐसी बात बोल जाता है।

जो आपको समझ में नहीं आती है तो ऐसे में आप कस्टमर की प्रॉब्लम का सलूशन नहीं दे पाते हो।

Naukri call centre number – कॉल सेंटर में job.

यदि आप भी call centre में job करना चाहते हैं यानी BPO या कॉल सेंटर में काम करना चाहते हैं तो आपको नंबरों की आवश्यकता है जहा से आप contact करके नौकरी ढूंढ सकते हैं।

अगर आप को कॉल सेंटर का नंबर चाहिए तो आप Google में एक वेबसाइट naukri.com पर जा सकते हैं । जहां पर आपको बहुत सारी call centre या बीपीओ जॉब मिल जाएगी क्योंकि naukri.com पर बहुत सारी jobs के लिए Hiring होती रहती है।

अगर आपने इससे पहले कभी call centre यानी कि बीपीओ की जॉब की है तो आपको कॉल सेंटर जॉब का experience भी रहा होगा।

तब आपको बहुत आसानी से job भी मिल जाएगी तथा आपकी salary भी अच्छी होगी।

Resume for call centre job fresher – कॉल सेंटर में जॉब।

Call centre vacancies – यदि आप भी कॉल सेंटर में जॉब ढूंढ रहे हो या जॉब करने के शौकीन हो या फिर आप call centre में नौकरी करना चाहते हैं तो आप अपना resume यानी कि अपने document call centre में दे सकते हैं।

यदि कॉल सेंटर में कोई vacancy चल रही होगी तो आपको interview के लिए बुलाया जा सकता है।और अगर आप इंटरव्यू में पास हो गए तो आप कॉल सेंटर में nokri कर सकते हैं।

कॉल सेंटर जॉब के लिए fresher यानी कि जो नौसिखिया होते हैं तथा experience वाले दोनों ही प्रकार के candidate को चयन किया जाता है।

लेकिन इसमें ज्यादा experience वाले लोगों को ही नौकरी दी जाती है प्रेशर वालों को बहुत कम ही नौकरी मिल पाती है लेकिन बहुत बार fresher को बहुत जल्दी job मिल जाती है।

Call centre process provider – BPO सेंटर खोलना।

यदि आप भी अपना खुद का call centre यानी कि बीपीओ सेंटर खोलना चाहते हैं तो आप भी बड़े आसानी से खोल सकते हैं।

बीपीओ सेंटर खोलने के लिए आपको सबसे पहले 5 से 10 लोगों को कॉल सेंटर में काम करने वाले तथा experience वाले लोग हैं उनको hire करना है।

उसके बाद आपको internet पर यानी google पर बहुत सारी website मिल जाएगी ।

जहां से आप अपनी call centre के लिए software ले सकते हो और फिर अपना खुद का कॉल सेंटर या बीपीओ सेंटर चालू कर सकते हो।

Call centre customer service – कस्टमर केयर सेंटर की पहचान।

अगर आप भी call centre customer service के बारे में जानना चाहते हैं तो हम आपको बता दें कि एक अच्छे और सही कॉल सेंटर या BPO centre की पहचान यही होती है
कि वह अपने किसी भी कस्टमर को पूरी तरीके से संतुष्ट करें और उनकी जो भी problem या समस्या है उनका समाधान तथा निवारण करें।

इसके साथ ही market में बहुत सारे call centre और कस्टमर केयर नंबर ऐसा होता है जिन पर समय पर call भी नहीं लगती है ।

यहां पर कॉल लगती है तो कॉल का answer नहीं आ पाता है। कभी-कभी तो वह call भी attend नहीं करते हैं। इस प्रकार के call centre कुछ दिन तक ही चल पाते हैं।

Call center business opportunities.

आइए दोस्तों अब हम जान लेते हैं call centre opportunity के बारे में यानी कि वर्तमान समय में कॉल सेंटर बिजनेस कौन-कौन सी चीज हमको मिलती है। जिससे हम अच्छा खासा पैसा बना सकते हैं।

वर्तमान समय में भारत में कॉल सेंटर बिजनेस अपॉर्चुनिटी काफी ज्यादा है जिस हिसाब से technology विकसित हो रही है। उस हिसाब से लोगों के businesses भी online होते जा रहे हैं।

और इन बिजनेस है उसको चलाने के लिए तथा कस्टमर की problem को solve करने के लिए कहीं ना कहीं call centre की जरूरत पडती ही है।

आज के समय में रोज नई नई कंपनियां खुलती है इनको call centre वाले लोगों की जरूरत कभी ना कभी किसी ना किसी रूप में पड़ती ही रहती है इसलिए वर्तमान में कॉल सेंटर business opportunities काफी ज्यादा फायदेमंद साबित हो सकता है।