दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं मिशन प्रेरणा पर कि मिशन प्रेरणा क्या है?

क्या आपने मिशन प्रेरणा का इससे पहले नाम सुना है ।अगर नहीं सुना है और आप नहीं जानते हैं।

मिशन प्रेरणा क्या है? तो आज हम आपको इस आर्टिकल में मिशन प्रेरणा के बारे में बताने वाले है।

दोस्तों उत्तर प्रदेश में नई सरकार बनने के बाद वहां के वर्तमान मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने उत्तर प्रदेश की शिक्षा पद्धति पर ध्यान देना शुरू कर दिया है।

क्योंकि उनका मानना है कि जब तक पौधों की जड़ों को मजबूत नहीं किया जाए , तब तक एक पौधा, पौधा नहीं बन सकता है।

मिशन प्रेरणा की शुरुआत उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा बेसिक और प्राइमरी स्तर पर शिक्षा पद्धति में सुधार के लिए शुरू किया गया है।

जो कि बुनियादी शिक्षा पद्धति को बदलने का काम करेगा।

मिशन प्रेरणा उत्तर प्रदेश की सरकार द्वारा बेसिक शिक्षा में सुधार और परिवर्तन करने के लिए किया गया एक कार्यक्रम है।

मिशन प्रेरणा के तहत उत्तर प्रदेश के 1.6 लाख विद्यालयों में बेसिक शिक्षा हेतु नियुक्त किए गए शिक्षकों द्वारा पढ़ाई जाने वाली शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाने का पहला प्रयास है।

मिशन प्रेरणा के इस अभियान में बच्चों को केवल बुनियादी शिक्षा ही नहीं इसके साथ साथ उन्हें कौशल विकास की शिक्षा भी दी जाएगी।

इसके साथ-साथ मिशन प्रेरणा अभियान में मुख्य विषयों जैसे भाषा और गणित पर भी जोर दिया गया है।

मिशन प्रेरणा के इस अभियान के लक्ष्य और उद्देश्य को ज्यादा से ज्यादा सफल बनाने के लिए स्लोगन भी बनाया गया है।

मिशन प्रेरणा का स्लोगन है :- “उत्तर प्रदेश, प्रेरक प्रदेश”

mission prerna – prerna in hindi.

मिशन प्रेरणा क्या है? – मिशन प्रेरणा या फिर प्रेरणा क्या है? अगर आपको मालूम नहीं है तो हम आपको बता देते हैं ।

कि उत्तर प्रदेश के अंदर शिक्षा के क्षेत्र में बढ़ोतरी करने के लिए अभियान की शुरुआत की गई है। जिसको हम मिशन प्रेरणा कहते हैं।

छोटी कक्षाओं के लिए बच्चों को बुनियादी शिक्षा के साथ-साथ कुछ कौशल युक्त काम सिखाने के लिए भी टीचरों को बताया गया है।

अगर कोई अध्यापक बुनियादी शिक्षा के साथ-साथ बच्चों को कौशल ज्ञान भी देता है तो बच्चों के सफल होने के चांस ज्यादा होते हैं।

लेकिन इसके लिए टीचरों को अच्छी सुविधा भी उपलब्ध करानी पड़ेगी तभी यह संभव हो सकेगा।

अध्यापकों को हमारे भारत देश में भगवान से भी बड़ा दर्जा दिया जाता है क्योंकि इनके बताए गए पथ पर ही हम चलकर अपने जीवन में सफल होते हैं।

शिक्षकों को दूसरा पिता भी कहा जाता है, पहला पिता वह होता है जो जन्म देता है।

दूसरा जन्म हमे अध्यापक शिक्षित करके इस दुनिया में देते हैं।

लोग खुद से ज्यादा अध्यापकों की बातों पर ध्यान देते हैं क्योंकि कोई भी अध्यापक अपने शिष्यों को गलत राहे नहीं बताता है।

मिशन प्रेरणा का उद्देश्य बच्चों को दी जाने वाली बुनियादी शिक्षा में सुधार करके और महत्वपूर्ण विषयों पर ध्यान देकर उन्हें और ज्यादा शिक्षित बनाना है।

मिशन प्रेरणा “सर्व शिक्षा अभियान” का एक कार्यक्रम है जिसका सबसे महत्वपूर्ण उद्देश्य है कि बच्चों को शिक्षित करने के लिए जरूरी सामग्री, ट्रेनिंग और सुविधाएं अध्यापकों को प्रदान की जाए ताकि वे बच्चे की शिक्षा पर ज्यादा ध्यान दे सकें।

प्रेरणा तालिका क्या है? – prerna talika kya hai.

प्रेरणा तालिका – अब हम बात करेंगे प्रेरणा तालिका के बारे में की प्रेरणा तालिका क्या है?

उत्तर प्रदेश के अंदर शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाने हेतु मिशन प्रेरणा की शुरुआत की गई है।

अब वहां पर बच्चों को उनके ज्ञान के आधार पर ग्रेडिंग भी दी जाएगी।

सभी कक्षाओं में विषयवार इस सूची को तैयार किया गया है जिससे यह काम आसान हो जाता है।

और इसे ही हम प्रेरणा तालिका के नाम से जानते हैं।

प्रेरणा तालिका तैयार करने के बाद स्कूल में आने वाला कोई भी व्यक्ति प्रेरणा तालिका को देखकर बच्चों के ज्ञान के आधार पर उनसे सवाल-जवाब कर सकता है।

जो बच्चे कमजोर रह गए हैं, उन पर विशेष ध्यान देकर उन्हें होशियार भी बनाया जाएगा।

प्रेरणा तालिका कक्षा 1 से लेकर 5 तक हिंदी व गणित विषय के लिए बनाई गई है।

इसमें हिंदी में गणित विषय के तहत बच्चे के आउटकम के आधार पर उस को ग्रेडिंग दी जाती है।

प्रेरणा तालिका में ऊपर की रिक्त पंक्ति में 1 से लेकर 30 तक विद्यार्थियों के नाम लिखे जाएंगे।

अगर किसी कक्षा में 30 से ज्यादा विद्यार्थी है तो उसकी अलग से तालिका बनाई जाएगी।

प्रेरणा तालिका मैं किसी भी सेल में cross का निशान नहीं लगाया जाएगा।

इसके साथ ही प्रधानाध्यापक द्वारा समय-समय पर प्रेरणा तालिका को देखा जाएगा।

प्रत्येक 3 महीने के बाद प्रधानाध्यापक और ARP द्वारा की सभी छात्रों ने निर्धारित गोल हासिल किए हैं या नहीं।

प्रेरणा सूची क्या है – prerna suchi kya hai.

प्रेरणा सूची – दोस्तों अब हम आपको बताने वाले हैं कि मिशन प्रेरणा सूची क्या है ?

क्या आपको पता है कि मिशन प्रेरणा और मिशन प्रेरणा सूची क्या है?

प्रेरणा सूची थोड़ी सी लंबी और कठिन है इसे समझना थोड़ा सा मुश्किल भरा काम हो सकता है।

प्रेरणा सूची – गणित कक्षा 1

बच्चों को संख्या से पूर्व अवधारणाओं कि समझ होना चाहिए जैसे दूर- पास, पहले- बाद, लंबा – छोटा।

बच्चे 1 से लेकर 99 तक की संख्या को पहचान सके। और उनकी तुलना करके सही क्रम में लगा सके।

बच्चे वस्तुओं का उपयोग करके 1 से 99 तक की गिनती गिन सके।

संख्याओं के मध्य रिक्त स्थानों की पूर्ति बच्चे कर सकें।

इसके साथ ही बच्चे इकाई, दहाई को भी समझ सके।

बच्चे वस्तुओं का उपयोग करके 1 से 9 तक की संख्याओं को जोड़ सकें और घटा सके।

बच्चे सीधी रेखा गोला, त्रिभुज और चतुर्भुज आदि आकृतियों को पहचान सके, वह बता सके।

बच्चे 3डी आकार जैसे घन ,बेलनाकार, शंकु और गोलाकार को पहचान सके व बना सके।

बच्चे गुणा भाग जोड़ बाकी से संबंधित प्रश्नों का हल निकाल सके।

बच्चे घड़ी देखकर समय बता सके।

बच्चे 6 अंकों की संख्या उनको जोड़ सके व घटा सके।

बच्चे तीन अंको की संख्याओं को गुणा कर सकें।

बच्चे बस तथा रेलवे की समय तालिका को पढ़ सकें।

बच्चे लाभ और हानि से संबंधित सवालों को हल कर सके।

बच्चे भिन अंक को प्रतिशत में बदल सकें।

mission prerna uttar pradesh .prerna meaning in hindi.

मिशन प्रेरणा क्या है? – अब हम आपको मिशन प्रेरणा उत्तर प्रदेश तथा मिशन प्रेरणा का मतलब बताने वाले हैं।

कि सही मामले में मिशन प्रेरणा है क्या? इसका क्या मतलब होता है?

उत्तर प्रदेश सरकार ने बच्चों की बुनियादी शिक्षा को बेहतर बना कर मिशन प्रेरणा को और ज्यादा सफल बनाना चाहती है।

इसके लिए उत्तर प्रदेश सरकार हरसंभव काम कर रही है। उत्तर प्रदेश सरकार का ऐसा मानना है।

कि अगर बच्चों की प्रारंभिक शिक्षा मजबूत होगी तो उन्हें माध्यमिक और उच्च स्तर की शिक्षा को प्राप्त करने में किसी भी प्रकार की कठिनाई नहीं होगी।

इसी बात को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश की सरकार ने मिशन प्रेरणा की शुरुआत की है।

मिशन प्रेरणा के अंदर प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालय की शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार करना है।

ताकि बच्चों की बुनियादी शिक्षा के साथ-साथ उन्हें कुछ कौशल की चीजें भी सिखा सकें ।

जिन से उनको सोचने , समझने और गणना करने की क्षमता विकसित होगी।

mission prerna lakshya – prerna lakshya kya hai.

प्रेरणा लक्ष्य क्या हैं? – उत्तर प्रदेश को प्रेरक प्रदेश बनाने के लिए सरकार द्वारा एक मुहिम चलाई गई है जिसको “मिशन प्रेरणा” का नाम दिया गया है।

मिशन प्रेरणा में बेसिक शिक्षा को सुधारने के लिए कुछ लक्ष्य निर्धारित किए गए हैं जिन्हें ही हम प्रेरणा लक्ष्य के नाम से जानते हैं।

प्रेरणा लक्ष्य के इन्हीं लक्ष्यों को पूरा करके सबसे पहले प्राथमिक विद्यालय को प्रेरक बनाना होगा।

आइए अब हम जानते हैं कि प्रेरणा लक्ष्य कौन-कौन से हैं?

प्रेरणा लक्ष्य के अंदर केवल दो विषयों भाषा और गणित के लिए ही कक्षा के अनुसार निर्धारित किए गए हैं। जो कि इस प्रकार है।

भाषा के लिए प्रेरणा लक्ष्य निम्नलिखित है?

कक्षा 1 की भाषा का प्रेरणा लक्ष्य – दी हुई प्रेरणा सूची से छात्र को पांच अक्षर पहचान लेना है।

कक्षा 2 की भाषा का प्रेरणा लक्ष्य – दिए गए अनुच्छेद को 20 शब्द प्रति मिनट के प्रवाह से पढ़ लेने में सक्षम हो।

कक्षा 3 की भाषा का प्रेरणा लक्ष्य – दिए गए अनुच्छेद को बच्चा 30 शब्द प्रति मिनट के प्रवाह से पढ़ना चाहिए।

कक्षा 4 की भाषा का प्रेरणा लक्ष्य – छोटे अनुच्छेद को पढ़ने के बाद उनमें से पूछे जाने वाले सवालों के 75 परसेंट सही उत्तर देना।

कक्षा 5 की भाषा का प्रेरणा लक्ष्य – बड़े अनुच्छेद को पढ़कर उन में पूछे जाने वाले सवालों के 75 परसेंट सही उत्तर देना।

गणित के लिए प्रेरणा लक्ष्य निम्नलिखित है ?

कक्षा 1 कि गणित का प्रेरणा लक्ष्य – दी हुई प्रेरणा सूची में से पांच संख्याएं पहचानना।

कक्षा 2 की गणित का प्रेरणा लक्ष्य – जोड़ और घटाने वाले सवालों का 75 परसेंट सही उत्तर देना।

कक्षा 3 की गणित का प्रेरणा लक्ष्य – जोड़ और घटाने वाले सवालों को 75% सही करना।

कक्षा 4 की गणित का प्रेरणा लक्ष्य – गुणा के प्रश्नों का 75 परसेंट सही हल देना।

कक्षा 5 कि गणित का प्रेरणा लक्ष्य – भाग के 75 परसेंट प्रश्नों का सही उत्तर देना।

प्रेरणा लक्ष्य और प्रेरणा सूची में क्या अंतर है? – prerna lakshye or prerna suchi mein kya anter hai?

अब हम आपको बताएंगे की प्रेरणा लक्ष्य और प्रेरणा सूची में क्या अंतर होता है?

क्या आपको पता है कि प्रेरणा लक्ष्य और प्रेरणा सूची क्या है?

प्रेरणा लक्ष्य में सबसे पहले हम अपने लक्ष्य को निर्धारित करते हैं।

हम अपने अंदर की काबिलियत को जान लेते हैं कि हम कौन से विषय में अच्छा कर सकते हैं।

इसके बाद हम यह सोचते हैं कि हमको बनना क्या है। और किस विषय में अपना भविष्य बनाना है।

हम अपने घर में बड़ों से या फिर दोस्तों से प्रेरणा लेकर भी अपने लक्ष्य को निर्धारित कर लेते हैं।

जबकि प्रेरणा सूची के अंदर हम अपने लक्ष्य को निर्धारित करने के लिए सूची बनाते हैं।
कि हमें अपने लक्ष्य के लिए क्या-क्या करना है।

इसके लिए हम अपने परिवार व शिक्षकों की सहायता लेते हैं। अपने विषय के बारे में मेहनत करते हैं।

प्रेरणा लक्ष्य पर मूल्यांकन कैसे होगा ? prerna lakshya ka mulyankan kaise hoga.

अब हम आपको बताएंगे कि प्रेरणा लक्ष्य पर मूल्यांकन कैसे होगा?

अब बेसिक स्कूल के छात्र छात्राओं के साथ ही शिक्षक शिक्षिकाओं की भी ऑनलाइन क्लास शुरू हो गई है।

शिक्षक शिक्षिकाओं के लिए टीचर कॉर्नर जारी किया गया है। इस पर अध्ययन करने के बाद ऑनलाइन परीक्षा भी होगी।

जिसका भी मूल्यांकन समय-समय पर किया जाएगा।

इसके लिए प्रेरणा एप में प्रेरणा लक्ष्य, प्रेरणा सूची और प्रेरणा तालिका को जारी किया गया है।

मिशन प्रेरणा के तहत शिक्षकों का भी मूल्यांकन होगा। इसके लिए जारी किए गए लिंक पर प्रश्नों का जवाब देना होगा।
और बाद में इसका मूल्यांकन होगा।

प्रेरणा एप में शिक्षकों के मूल्यांकन से पहले टीचर कॉर्नर में शिक्षण कार्य के लिए ऑडियो , वीडियो किताबें, डॉक्यूमेंट , पोस्टर्स आदि उपलब्ध कराए गए हैं।

जिससे शिक्षक खुद का ज्ञान बढ़ाकर बच्चों की शिक्षा में भी बढ़ोतरी करें।

मिशन प्रेरणा के तहत शिक्षकों को ग्रेड देने का भी काम किया गया है।

इसके लिए ऑनलाइन मूल्यांकन का कार्य करते हुए उसके आधार पर शिक्षकों का ग्रेड जारी किया गया है।

प्रेरणा लक्ष्य किस पर आधारित है ? – prerna lakshya kis per aadharit hai.

अब हम आपको बताएंगे की प्रेरणा लक्ष्य किस पर आधारित है? प्रेरणा लक्ष्य के बारे में तो आपने ऊपर जान ही लिया।

लेकिन क्या आप यह भी जानते हैं कि प्रेरणा लक्ष्य किस पर आधारित होता है।

प्रेरणा लक्ष्य साहस, आत्मविश्वास और मेहनत पर आधारित होता है।

प्रेरणा लक्ष्य कि 4 सितंबर 2019 को घोषणा हुई और 5 सितंबर 2019 को लागू हो गया था।

प्रेरणा लक्ष्य कक्षा 1 से 5 यानी प्राथमिक कक्षाओं के लिए आधारित किया गया है।

प्रेरणा लक्ष्य प्रेरणा मिशन का ही एक भाग है। Prerna mission को प्रेरणा लक्ष्य, प्रेरणा तालिका व प्रेरणा सूची में बांटा गया है।

प्रेरणा लक्ष्य बच्चों की बुनियादी शिक्षा को और ज्यादा मजबूत बनाने के लिए किया गया एक काम है।

इसके अंदर कक्षा 1 से लेकर 5 तक के बच्चों को भाषा तथा गणित के विषय में होशियार बनाना है।

ताकि उनके अंदर किसी भी प्रकार की कोई कमी ना रह जाए।

prernaup.in – prerna up.in

prernaup.in एक वेबसाइट है जो प्रेरणा मिशन को और ज्यादा सफल बनाने के लिए बनाई गई है।

जैसा कि हमने आपको बता ही दिया है कि उत्तर प्रदेश सरकार ने बच्चे की प्रारंभिक शिक्षा को और ज्यादा मजबूत बनाने के लिए “प्रेरणा मिशन” की शुरुआत की है।

इस प्रेरणा मिशन में प्रेरणा सूची, प्रेरणा तालिका और प्रेरणा लक्ष्य को रखा गया है।

इस प्रेरणा मिशन का उद्देश्य और लक्ष्य प्राथमिक स्तर के बच्चों के ज्ञान में वृद्धि करके उन्हें शिक्षा के क्षेत्र में वर्दी करने का अवसर प्रदान करता है।

प्रेरणा मिशन के बारे में अगर आप और ज्यादा जानकारी जानना चाहते हैं।

या फिर आप प्रेरणा मिशन अभियान से जुड़ना चाहते हैं तो आप इनकी ऑफिशियल वेबसाइट prernaup.in पर विजिट कर सकते हैं ।

और आप वहां पर देख सकते हैं कि किस प्रकार से “प्रेरणा मिशन” काम करता है और किस प्रकार से आप इसमें जुड़कर सहयोग प्रदान कर सकते हैं।